.

New Article

Saturday, October 13, 2012

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर

**नये भूखंड खरीदते समय यह ध्यान रखें की भूखंड का नेऋत्य कोण [दक्षिण-पश्चिम] सभी कोनो से ऊँचा होना चाहिए
** वास्तु शास्त्र के अनुसार घर ,फेक्टरी या फार्म हॉउस का नेऋत्य कोण सभी कोनो से ऊँचा और भारी होना चाहिए
**नवनिर्माण करते समय भी ध्यान रखें कि पूरा निर्माण कार्य भूखंड के नेऋत्य कोण में होना चाहिए इससे नेऋत्य कोण का हिस्स...
ा भारी हो जायेगा
**अगर आपके निर्माण कार्य में नेऋत्य कोण खली और खुला हूवा है तो यह वास्तु दोष है ,इस वास्तु दोष को ठीक करना चाहिए
**नेऋत्य कोण के खुले हुवे हिस्से में पत्थरों से एक पहाड़ जैसा निर्माण कर दें जिससे यह कोणा भारी हो जायेगा
**नेऋत्य कोण के इस खुले हुवे हिस्से में अनुपयोगी सामग्री को रखवा दें
**नेऋत्य कोण के इस खुले हुवे हिस्से में बड़े बड़े पेड़ पौधे लगवा दें
**नेऋत्य कोण के दोष निवारण के लिए राहू यंत्र कि स्थापना जरुर करें
**भूखंड के नेऋत्य कोण में हनुमान जी एक ध्वजा मंगलवार को लगवाने से नेऋत्य कोण भारी हो जाता है
**भूखंड का नेऋत्य कोण का हिस्सा यदि ज्यादा खुला हूवा है तो एक दीवाल और बनवा कर भूखंड को दो हिस्से में बाँट दें

No comments:

Total Pageviews

Video

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Pages

ShareThis