.

New Article

Sunday, September 30, 2018

राशिफल Monday, October 01, 2018

8:36:00 PM
राशिफल (मेष राशि) / Mesh Rashifal Monday, October 01, 2018 बहुत-कुछ आपके कंधों पर टिका हुआ है और फ़ैसले लेने के लिए स्पष्ट सोच ज़रूर...
Read more

Saturday, September 29, 2018

राशिफल Sunday, September 30, 2018

10:32:00 PM
राशिफल (मेष राशि) / Mesh Rashifal Sunday, September 30, 2018 आज आप उम्मीदों की जादुई दुनिया में हैं। मनोरंजन और सौन्दर्य में इ...
Read more

Friday, September 28, 2018

Thursday, September 27, 2018

भगवान नारायण लक्ष्मी

5:19:00 AM
एक बार भगवान नारायण लक्ष्मी जी से बोले, “लोगो में कितनी भक्ति बढ़ गयी है …. सब “नारायण नारायण” करते हैं !” .. तो लक्ष्मी जी बोली, “आप क...
Read more

Wednesday, September 26, 2018

आखिरी फैसला

11:44:00 PM
एक राजा था। उसने दस खूंखार जंगली कुत्ते पाल रखे थे।  उसके दरबारियों और मंत्रियों से जब कोई मामूली सी भी गलती हो जाती तो वह उन्हें उन कु...
Read more

राशिफल September 27, 2018

8:54:00 PM
राशिफल (मेष राशि) / Mesh Rashifal Thursday, September 27, 2018 आज आपकी सेहत पूरी तरह अच्छी रहेगी। निवेश के लिए अच्छा दिन है, लेकिन उचित...
Read more

श्री रामायण

7:59:00 AM
एक साधु महाराज श्री रामायण कथा सुना रहे थे।  लोग  आते  और  आनंद विभोर होकर जाते। साधु महाराज का नियम था रोज कथा शुरू  करने से पहले  "...
Read more

Tuesday, September 25, 2018

विद्वता और मानवता

8:34:00 PM
एक बहुत बड़ा मंदिर था। उसमें हजारों यात्री दर्शन करने आते थे। सहसा मंदिर का प्रबंधक प्रधान पुजारी मर गया। मंदिर के महंत को दूसरे पुजारी ...
Read more

एक ही बेटा

6:52:00 AM
एक सम्राट का एक ही बेटा था।* *वह बेटा मरण—शय्या पर पड़ा था।* *चिकित्सकों ने कह दिया हार कर कि हम कुछ कर न सकेंगे,* *बचेगा नहीं, बचना असंभ...
Read more

साक्षी की साधना

6:46:00 AM
Amazon.in Widgets बुद्ध के पास एक राजकुमार दीक्षित हो गया, दीक्षा के दूसरे ही दिन किसी श्राविका के घर उसे भिक्षा लेने बुद्ध ने भेज दिया...
Read more

Sunday, September 23, 2018

सतगुरु तेरा शुक्र है

12:28:00 AM
लाहौर में लाहौरी और शाहआलमी दरवाजों के बाहर कभी एक बाग़ था। वहाँ एक फ़क़ीर था। उसके दोनों बाज़ू नहीं थे। उस बाग़ में मच्छर भी बहुत होते थ...
Read more

श्राद्ध की महिमा,श्राद्ध का स्वरूप,महत्त्व और श्राद्ध के लक्षण ।

12:10:00 AM
शास्त्रों में पंचमहायज्ञों में से पितृयज्ञ के अन्तर्गत श्राद्धकर्म कर्मणीय माने गए हैं। श्रद्धापूर्वक अपने पितरों के निमित्त जो भी क...
Read more

Total Pageviews

Video

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Pages

ShareThis